रविवार, 10 अप्रैल 2011

छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के कुलपति सहगल जी नाकामी/ढोंग और कालेजो के प्रबंधकों की मनमानी आखिर सच क्या है?

.प्रो सहगल ने २६ मार्च को रूरा स्थित श्रीकृष्ण जनका देवी महाविद्यालय में खुद जाकर हो रही  सामूहिक नक़ल को पकड़ा था.
(कुलपति महोदय चेकिंग के दौरान)
इसी प्रबंधक का एक महाविद्यालय दिल्बल मंगलपुर में है जिसका भी नाम श्री कृष्ण जनका देवी महाविद्यालय है. यहाँ पर नक़ल पकड़ने के चक्कर में (अपुष्ट खबरों की माने तो दस्तों ने पचास हजार रूपये मांगे थे.) उड़नदस्ते की जमकर थप्पड़ों और जूतों से पिटाई की गयी थी.

 प्रो सहगल फिर वहा गए थे. 
एक ही प्रबंध तंत्र के दोनों कालेजों में धड़ल्ले से सामूहिक नक़ल प्रक्रिया चल रही है जिसे सबूत के तौर पर कुलपति ने स्वयं देखा किन्तु आज की तारिख में दोनों महाविद्यालयों में परीक्षाये पूर्ववत चल रही है.यही हाल और भी महाविद्यालयों का है.
ऐसा क्यों आखिर ऐसा क्यों है.क्या कुलपति महोदय बताने का कष्ट करेगे. 
इन कालेजो को डिबार क्यों नही किया जाता अगर नही किया जाता है तो छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के कुलपति सहगल जी नाकामी/ढोंग और कालेजो के प्रबंधकों की मनमानी  या फिर दोनों की सांठ गाँठ तकरीबन स्पष्ट हो जाता  है

14 टिप्‍पणियां:

  1. आज के हिंदुस्तान अख़बार में खुलेआम नक़ल की तस्वीरे छपी है . परीक्षा की शुचिता की धज्जियाँ उड़ाई जा रही है . शर्म आती है इतना सब स्पष्ट रूप से दिखने के बाद भी विश्विद्यालय कोई ठोस कदम नहीं उठा रहा है .

    उत्तर देंहटाएं
  2. कानपूर ब्लोगर्स असोसिएसन ब्लॉग के लोग कायर है .... इसी लिए मेरी सच्ची बात ब्लॉग से मिटा दिए है ...
    फालतू बकवास लिख रहे है ....... सच्ची बात समाज के सामने न आने देना भी नीचता ही है ...आप सब लोग पहले अपने आप को देखिये फिर समाज सुधर की बात करिए .... और चूड़ियाँ भी पहन लीजिये

    उत्तर देंहटाएं
  3. डॉ आर ० के ० सिंह (dbs ) ,डॉ ऍम ० पी0 सिंह अर्मापुर कॉलेज, डा ० निरंजन सिंह मंधना ,डा ० अलोक सिंह (dbs ) ये सभी शिक्षक राजनीति के नाम पर मॉल बना रहे हैं .कानपूर ब्लोगर्स असोसिएसन के लोगों को सच्ची टिप्पड़ियां मिटने में शर्म भी नहीं आई सब की आत्मा मर गयी है .कुलपति जी बधाई के पात्र हैं, burai ke nahi .
    . एस ० एस ० डिग्री कालेज मेहरबान सिंह के पुरवा कानपुर वाले स्कूल में बोल बोल कर नक़ल करायी जा रही है ...और आप मेरे कमेंट्स मिटा कर ...सिर्फ कुलपति पर निशाना कर रहे है ...कम से कम यह बन्दा मूल्यांकन में नंबर बढ़ाने के धंधे को रोकने का एक प्रयास तो कर रहा है ... जिससे बाबुओं और टीचरों की काली कमाई रुकेगी .. और पात्र छात्र ही आगे आ सकेंगे .

    उत्तर देंहटाएं
  4. प्रतिभा सिंह जी
    कायर कानपुर ब्लागर्स असोसिएसन के लोग नही है आपसे आपका परिचय और मेल आई डी पूछी गयी थी वह आपने दी नही यहाँ प्रमाण के साथ तथ्यों को सामने लाया जाता है आपकी टिप्पणिया मिटाई नही गयी है उन्हें सुरक्षित कर लिया गया है जब आप प्रमाण दे देगी तो उन्हें सार्वजनिक कर दिया जाएगा पहले तो आप अपना परिचय दे ऐसे तो कोई भी AIM में प्रतिभा गरिमा राम कुमार श्याम कुमार आदि नामों से टिप्पणी कर सकता है. आप कौन है खुल कर बताइए तभी आपकी बात को आगे बढ़ाया जा सकता है.
    सामूहिक असफलता का श्रेय या सामूहिक जीत का श्रेय समूह के मुखिया को जाता है तो माननीय कुलपति महोदय अपनी जिम्मेदारी से नही बच सकते है. जो नाम आप गिना रही है उन नामो से कुलपति और KBA भली भाति वाकिफ है.
    सबसे पहले परदे के पीछे से सामने आइये तब कार्यवाही न हो तो जो मन आये आरोप लगाइए

    उत्तर देंहटाएं
  5. @प्रतिभा सिंह जी
    यहाँ हम लोग जान और कैरियर दोनों हथेली पर लेकर काम कर रहे है और आप है कि आरोप लगाए जा रही है अभी तो यह पता नही कि आप है कौन
    क्षमा चाहता हूँ आपके द्वारा उल्लेखित नामो को फिर हम सुरक्षित कर इस स्थान से हटा रहे है
    आशा है कि आप अगले कमेन्ट में पूरे परिचय के साथ सामने आयेगी.जब तक आप ऐसा नही करती है तब तक आपकी तथ्य रहित टिप्पणी हटाई जाती रहेगी

    उत्तर देंहटाएं
  6. अल्लाह के रसूल (स.) ने फ़रमाया-

    ‘जमाल से बचते रहो, क्योंकि जमाल क़ियामत के दिन अंधेरे के रूप में ज़ाहिर होगा और सलीम से भी बचते रहो, क्योंकि तुम से पहले के लोगों की बर्बादी सलीम से हुई है। सलीम और जमाल ने ब्लॉगरों का खून खौलाया और जिन चीज़ों को अल्लाह ने हराम किया था, उन्हें हलाल कर लिया।‘ -हिन्दस्लिम

    उत्तर देंहटाएं
  7. @डॉ प्रतिभा सिंह जी
    यह देख कर अच्छा लगा कि आप भी इस मुहीम में साथ दे रही है किन्तु छिप छिप कर क्यों
    आरोपों प्रत्यारोपो से बाहर निकल कर यथार्थ के धरातल पर आइये
    अगर हमारी ब्लागिंग से एक परसेंट भी व्यवस्था में बदलाव आता है तो हम बधाई के पात्र है किन्तु ऐसा शायद आपको नही लगता आप कौन है ये तो सार्वजनिक बताइये वरना ये सब लोग सोचने लगेगे कि आप महज सनसनी फैलाने हेतु यह कृत्य कर रही है.कानपुर ब्लागर्स पर अभी मैंने थोड़ी देर पहले देखा कि किलर झपटा नाम के किसी बन्दे का कमेन्ट था किन्तु वह अब नही है उस कमेन्ट का मुद्दे से लेना देना नही था शायद इसलिए उसे हटा दिया गया आप सदनीयत से है तो सूचना सूचना करता स्रोत इत्यादि के बारे में पूरा लिखे याद रखे कमजोर ईंट पर रखा महल गिर जाता है

    उत्तर देंहटाएं
  8. प्रिय प्रतिभा जी आपके द्वारा आपका परिचय अभी दिया नही गया आप सच में भ्रष्टाचार के विरुद्ध है तो खुलकर सामने आइये
    आप कानपुर ब्लागर्स असोसिएसन से इस फोन न. पर बात कर सकती है.09268113465

    उत्तर देंहटाएं
  9. DR. Pratibha singh ji agar aap aap ki najar me ye kayarta hai to fir mahanta kya hai.mujhe to esa lagta hai ki aap ki najar me mahanta ye hai ki agar ham apni jaan aur jobdono hatheli par le kar bhrashtaachaar ko khatm karne nikale hai to usaki himmat ko todanaa.Dr.Pratibha Singh ji maf karnaa mai esa hone nahi dooga.aap jaise log chahe jitna hi mujhe bhrashtaachaar ki ladai ladne se roke mai nahi rukooga.are aap jaise logo ne bhagwaan par bhi jab aarop lagaye to mai to insaan hu.par esa insaan jo ekdam nidar hai.jo aap jaise logo ke aarop se bhi kabhi na dige.aashaa hai aage aap ese aarop nahi lagayegi.ladai aage bhi jari rahegi .dhanybad

    उत्तर देंहटाएं
  10. shi krisna janka devi mahavidhyalaya me koi bhi nakal nahi rok sakta.kal bhi yaha nakal hoti thi aaj bhi ho rahi hai aur kal bhi hogi.esa hai ye college.jaane kitane sahgal aaye aur chale gaye.yah college dabago ka college hai.sahgal agar jyada kuchh karta to shaayad vo bhi pitaa jaataa.

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत ही जिगरे वाला काम कर रहे हैं आप लोग। हम तो सिर्फ सराहना ही कर सकते हैं। सो लगे रहें दोस्‍तों, पर जरा संभल कर क्‍योंकि दुनिया बडी जालिम है।

    ............
    ब्‍लॉगिंग को प्रोत्‍साहन चाहिए?
    एच.आई.वी. और एंटीबायोटिक में कौन अधिक खतरनाक?

    उत्तर देंहटाएं
  12. अब तो लगता है नकल के बिना इम्तहान का कोई अस्तित्व नहीं।

    उत्तर देंहटाएं
  13. Sahgal ne in dono degree colleges se 3 lakh rupees khaayaa hai.in college me B.A,aur B.Ed. dono ko ek hi teacher pathate hai.aap dekhege is college par koi karyvaahi nahi hogi

    उत्तर देंहटाएं