सोमवार, 28 फ़रवरी 2011

रक्तदान जीवनदान है।अपने मित्रों व रिश्तेदारों को भी इस हेतु आगे आने के लिए प्रेरित करें

 रक्तदान जीवनदान है। हमारे द्वारा किया गया रक्तदान कई जिंदगियों को बचाता है। इस बात का अहसास हमें तब होता है जब हमारा कोई अपना खून के लिए जिंदगी और मौत के बीच जूझता है। उस वक्त हम नींद से जागते हैं और उसे बचाने के लिए खून के इंतजाम की जद्दोजहद करते हैं।

अनायास दुर्घटना या बीमारी का शिकार हममें से कोई भी हो सकता है। आज हम सभी शिक्षि‍त व सभ्य समाज के नागरिक है, जो केवल अपनी नहीं बल्कि दूसरों की भलाई के लिए भी सोचते हैं तो क्यों नहीं हम रक्तदान के पुनीत कार्य में अपना सहयोग प्रदान करें और लोगों को जीवनदान दें।
देशभर में रक्तदान हेतु नाको, रेडक्रास जैसी कई संस्थाएँ लोगों में रक्तदान के प्रति जागरूकता फैलाने का प्रयास कर रही है परंतु इनके प्रयास तभी सार्थक होंगे, जब हम स्वयं रक्तदान करने के लिए आगे आएँगे और अपने मित्रों व रिश्तेदारों को भी इस हेतु आगे आने के लिए प्रेरित करेंगे।

कौन कर सकता है रक्तदान : * कोई भी स्वस्थ व्यक्ति जिसकी आयु 18 से 68 वर्ष के बीच हो।
* जिसका वजन 45 किलोग्राम से अधिक हो।
* जिसके रक्त में हिमोग्लोबिन का प्रतिशत 12 प्रतिशत से अधिक हो।
 
रक्तदान करने के बाद मुझे लगा कि मानो जीवन का उद्देश्य सफल हो गया.

 

7 टिप्‍पणियां:

  1. रक्तदान जीवदान . जागरूक करती पोस्ट .

    उत्तर देंहटाएं
  2. देश और देश वासियों के लिए आपका जज्बा प्रेरणादायक है भाई
    मै आपको सलाम करता हूँ

    उत्तर देंहटाएं
  3. आप सौभाग्यशाली है कि आपने रक्त दान किया । हमे अभी यह करने में समय लगेगा क्योकि जो मानक आपने बताये , मै उनके अनुरूप नही । किन्तो आपको यकीन दिलाती हूँ कि मै जल्द ही रक्त दान का प्रयास अवश्य करूगीं

    उत्तर देंहटाएं
  4. यह हुई ना बात कर के दिखाया और लोगों को भी ऐसा करने को कहा. .वाह यही सही तरीका है.,जितनी तारीफ की जाए कम है.

    उत्तर देंहटाएं
  5. उत्तम पोस्ट। पहली बार मैंने रक्तदान का सचित्र वर्णन देखा। प्रेरणा दायक प्रस्तुति।

    उत्तर देंहटाएं
  6. ऐसे ही जीवनदान देते रहें

    उत्तर देंहटाएं