शुक्रवार, 10 फ़रवरी 2012

इन्तजार

चॉदनी को रहता है चॉद का इन्तजार,
दुख को रहता है, सुख का इन्तजार,
असफलता को रहता है, सफलता का इन्तजार,
किश्ती को रहता हैं, साहिल का इन्तजार,
मौत को रहता है, जिन्दगी का इन्तजार,
लेकिन....................
चॉदनी को भी रहता है अमावस का इन्तजार,
प्यार को रह्ता है, धोखे क इन्तजार,
किश्ती को रह्ता है, मझधार का इन्तजार,
और जिन्दगी भी करती है, सिर्फ मौत का इन्तजार,
इन्तजार ........... इन्तजार............सिर्फ.इन्तजार

1 टिप्पणी: