शुक्रवार, 1 फ़रवरी 2013

लो आज उठा है , विश्व पटल पर फिर से भारत देश हमारा .

खिलती  धरती , धूमित  अम्बर .
हर्षाता  जग सारा ,
लो आज उठा है ,
विश्व पटल पर फिर से भारत  देश हमारा .

बढता पल पल  , प्रगति पथ पर.
पग पग  है संकल्प नए,
नित नयी कीर्ति को  छूता ,
 लहराता ये तिरंगा प्यारा .....

लो आज उठा है ,
विश्व पटल पर फिर से भारत  देश हमारा .

 ये  यूं ही बढता जाये ,
आंच न आये गरिमा पर ,
 शान न इसकी जाने पाए ,
दाग न आये आँचल पर ..
 ये ही हो संकल्प हमारा .....

लो आज उठा है ,
विश्व पटल पर फिर से भारत  देश हमारा .

" कि माटी नहीं ये स्वर्ण धरा है ,
है इस पर सर्वस्व  न्योछावर ..
 जीवन " अमन "का तेरा ही है ,
तुझपे है अपना सब कुछ अर्पण "



 नोट : चित्र गूगल से साभार .







1 टिप्पणी: